पंजाब किंग्स ने Bairstow and Shashank के शानदार रन चेज से IPL रिकॉर्ड तोड़ा

 

पावर-हिटिंग का शानदार प्रदर्शन करते हुए, पंजाब किंग्स ने कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ़ एक शानदार रन चेज किया, जिसमें कई रिकॉर्ड टूट गए। जॉनी बेयरस्टो के शानदार शतक की अगुआई और प्रभसिमरन सिंह और शशांक सिंह के समर्थन से, पंजाब किंग्स ने KKR के 261 रनों के विशाल स्कोर को आठ गेंद शेष रहते हासिल कर लिया, जो IPL इतिहास की सबसे उल्लेखनीय जीत में से एक है।


Jonny Bairstow finished unbeaten on 108* off just 48 balls in the historic chase. (Image Credits: BCCI/IPL )


बेयरस्टो की प्रतिभा:

जॉनी बेयरस्टो का नाबाद शतक पंजाब किंग्स के शानदार रन चेज की आधारशिला था। बेयरस्टो की पारी पावर-हिटिंग में मास्टरक्लास थी, क्योंकि उन्होंने KKR के गेंदबाजों को आसानी से मैदान के सभी हिस्सों में भेजा। नियमित रूप से बाउंड्री लगाने और उच्च स्कोरिंग दर बनाए रखने की उनकी क्षमता ने पूरे चेज के दौरान पंजाब किंग्स को जीत की दौड़ में बनाए रखा।

प्रभसिमरन की धमाकेदार शुरुआत:

प्रभसिमरन सिंह ने पावरप्ले में धमाकेदार अर्धशतक लगाकर पंजाब किंग्स के रन चेज को बेहतरीन शुरुआत दी। उनके आक्रामक स्ट्रोक प्ले ने KKR के गेंदबाजों को शुरुआत में ही बैकफुट पर ला दिया और बाकी की पारी के लिए लय तय कर दी। प्रभसिमरन की पारी पारंपरिक शॉट्स और साहसिक स्कूप का मिश्रण थी, जो एक बल्लेबाज के रूप में उनकी बहुमुखी प्रतिभा को दर्शाता है।

शशांक की लेट ब्लिट्ज:

जब लक्ष्य का पीछा अपने अंतिम चरण में पहुंचा, तो शशांक सिंह ने बेयरस्टो से स्कोरिंग की जिम्मेदारी संभाली। डेथ ओवरों में उनकी धमाकेदार बल्लेबाजी ने सुनिश्चित किया कि पंजाब किंग्स आसानी से फिनिश लाइन पार कर जाए। शशांक की इच्छाशक्ति से बाउंड्री लगाने और दबाव में स्कोरबोर्ड को आगे बढ़ाने की क्षमता ने पंजाब किंग्स की ऐतिहासिक जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

KKR का वीरतापूर्ण प्रयास:

261 रनों का मजबूत स्कोर बनाने के बावजूद, कोलकाता नाइट राइडर्स पंजाब किंग्स के बल्लेबाजों के हमले को रोकने में असमर्थ रहे। सुनील नरेन की शानदार ऑलराउंड और फिल साल्ट की धमाकेदार पारी ने KKR को एक मजबूत मंच प्रदान किया, लेकिन वे महत्वपूर्ण डेथ ओवरों में रनों के प्रवाह को रोकने में असमर्थ रहे।

रिकॉर्डों की भरमार:

इस मैच में कई रिकॉर्ड टूटे, जिसमें IPL इतिहास में अब तक का सबसे बड़ा सफल रन चेज भी शामिल है। पंजाब किंग्स का 262/2 का स्कोर IPL इतिहास का चौथा सबसे बड़ा स्कोर है, जो उनकी उपलब्धि की महत्ता को दर्शाता है। इसके अलावा, जॉनी बेयरस्टो का शतक और डेथ ओवरों में शशांक सिंह की धमाकेदार बल्लेबाजी IPL इतिहास के सबसे यादगार बल्लेबाजी प्रदर्शनों में से एक के रूप में याद की जाएगी।

इस जीत के साथ, पंजाब किंग्स ने टूर्नामेंट की शुरुआत में ही गति पकड़ ली है और आगामी मैचों में अपनी सफलता को और आगे बढ़ाना चाहेगी। उनकी अगली चुनौती चेन्नई में उनका इंतजार कर रही है, जहां वे गत चैंपियन से भिड़ेंगे, जो एक और रोमांचक मुकाबला होने का वादा करता है।

दूसरी ओर, कोलकाता नाइट राइडर्स को घरेलू मैदान पर निराशाजनक हार का सामना करने के बाद आत्ममंथन करना होगा। अपने मजबूत बल्लेबाजी प्रदर्शन के बावजूद, KKR के गेंदबाजों को फिर से संगठित होने और डेथ ओवरों में बेहतर योजना के साथ आने की आवश्यकता होगी यदि उन्हें दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ अपने अगले मैच में वापसी करनी है।

निष्कर्ष:

कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ पंजाब किंग्स का शानदार रन चेज IPL इतिहास में सबसे शानदार वापसी के रूप में जाना जाएगा। जॉनी बेयरस्टो के वीर शतक की अगुवाई में और प्रभसिमरन सिंह और शशांक सिंह के समर्थन से, पंजाब किंग्स ने आसानी से रिकॉर्ड स्कोर का पीछा करते हुए अविश्वसनीय बल्लेबाजी प्रदर्शन किया। जैसे-जैसे टूर्नामेंट आगे बढ़ेगा, दोनों टीमें अपने प्रदर्शन को आगे बढ़ाने और प्लेऑफ़ में जगह बनाने के लिए अपना दावा पेश करना चाहेंगी।

Post a Comment

और नया पुराने